Thursday, February 29, 2024
spot_img

राजस्थान का पशुधन देश की अर्थव्यवस्था में

देश की अर्थव्यवस्था में राजस्थान का पशुधन अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। प्रदेश में देश के सबसे बड़े मरुस्थल क्षेत्र स्थित होने, मरुस्थलीय क्षेत्रों में कई-कई वर्षों तक वर्षा न होने, भूसतह पर जलस्रोतों की कमी होने तथा भूगर्भ में जल का स्तर नीचे होने के उपरांत भी राजस्थान में बड़े स्तर पर पशुपालन किया जाता है।

राजस्थान में दूध, ऊन, मांस एवं अण्डा उत्पादन के अतिरिक्त कृषि एवं भारवहन के लिए भी पशुपालन किया जाता है। साथ ही पशुओं से बड़ी मात्रा में हड्डियां प्राप्त होती हैं जो ऊर्वरक बनाने के काम आती है। विभिन्न पशुओं से प्राप्त चमड़े का उपयोग जूते एवं विविध जनोपयोगी सामग्री बनाने में किया जाता है। इस आलेख में दिए गए समस्त आंकड़े पशुगणना वर्ष 2019 पर आधारित हैं।

राजस्थान में पशुधन एवं कुक्कुट (पशुगणना वर्ष 2019)

कुल पशुधन568.01 लाख
कुल कुक्कुट146.23 लाख

देश के कुल पशुधन में राजस्थान की भागीदारी

देश के कुल पशुधन का राजस्थान में10.60 प्रतिशत
देश के कुल गौवंश का राजस्थान में7.24 प्रतिशत
देश की कुल भैंसों का राजस्थान में12.47 प्रतिशत
देश की कुल बकरियों का राजस्थान में14.00 प्रतिशत
देश की कुल भेड़ों का राजस्थान में10.64 प्रतिशत
देश के कुल ऊँटों का राजस्थान में84.43 प्रतिशत

राजस्थान में पशु-पक्षियों से प्राप्त उत्पादन

राजस्थान में दुग्ध उत्पादन33265 हजार टन
राजस्थान में ऊन उत्पादन156 लाख किलोग्राम
राजस्थान में अण्डा उत्पादन2688 मिलियन
राजस्थान में मांस उत्पादन221 हजार टन

देश की अर्थव्यवस्था में राजस्थान के पशुधन की भागीदारी

देश के कुल दुग्ध उत्पादन में14.63 प्रतिशत
देश के ऊन उत्पादन में42.45 प्रतिशत
देश के कुल बकरा मांस उत्पादन में30 प्रतिशत

राजस्थान में राष्ट्रीय स्तर के पशुधन अनुसंधान केन्द्र

राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केन्द्रजोरबीर (बीकानेर)
पशुधन अनुसंधान केन्द्रबल्लभनगर (उदयपुर)
केन्द्रीय भेड़ एवं ऊन शोध संस्थानअविकानगर

राजस्थान में पशुधन प्रजनन केन्द्र

केन्द्रीय पशु प्रजनन केन्द्रसूरतगढ़
बकरी प्रजनन फार्मरामसर (अजमेर)
शूकर प्रजनन फार्मअलवर
बुल मदर फार्मचंदनगांव (जैसलमेर)
गोवत्स परिपालन केन्द्रनोहर (हनुमानगढ़)
उरमूल डेयरीबीकानेर
गौवंश संवर्द्धन फार्मबस्सी (जयपुर)
वृषभ पालन केन्द्रनागौर, डग (झालावाड़), कुम्हेर (भरतपुर)

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,585FansLike
2,651FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

// disable viewing page source